SEOClerks
Hindu Music

Om Jai Jagdish Hare Aarti of Lord Vishnu – ॐ जय जगदीश हरे आरती – Chetna – HD Tune

SEOClerks



Om Jai Jagdish Hare Aarti of Lord Vishnu – ॐ जय जगदीश हरे आरती – Chetna – Full HD Devotional Video

ॐ जय जगदिश हरे आरती – OM Jai Jagdish Hare Aarti – विष्णु भगवान की आरती

Om Jai Jagdish Hare Aarti of Lord Vishnu – Hindi English Lyrics

► Album :- Om Jai Jagdish Hare Aarti

► Tune :- Om Jai Jagdish Hare Aarti

► Singer :- Chetna

► Lyrics :- Conventional

► Music :- Arun Vir

► Video Director :- Hansa Music

► Presents :- Hansa Bhakti

► Label :- Hansa Music

► Style :- Devotional

► Copyright : Hansa Music Pvt.Ltd

►Hungama – https://www.hungama.com/track/om-jai-jagdish-hare-aarti/51017133/

►Wynk -https://wynk.in/music/track/om-jai-jagdish-hare-aarti/hu_51017133?web page=0

► For Any Enquiry : PH – 8368904746
Gmail :- hansamusicworld@gmail.com

अगर आप Hindi Devotional Songs, Mata Bhajan Video, Radha Krishna Songs & Bhakti Bhajan को पसंद करते हैं तो Plz चैनल को Subscribe करें.

Subscribe Now :- https://cutt.ly/dw5zBOX

► Thanks For Watching Our Channel.
:- Have A Good Day

Subscribe For Extra Updates …
Subscribe Now :- https://cutt.ly/dw5zBOX

Lyrics
ओम जय जगदीश हरे
स्वामी जय जगदीश हरे
भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट
क्षण में दूर करे
ओम जय जगदीश हरे
ओम जय जगदीश हरे
स्वामी जय जगदीश हरे
भक्त ज़नो के संकट, दास ज़नो के संकट
क्षण में दूर करे
ओम जय जगदीश हरे
जो ध्यावे फल पावे, दुःख बिन से मन का
स्वामी दुख बिन से मन का
सुख सम्पति घर आवे
सुख सम्पति घर आवे
कष्ट मिटे तन का
ओम जय जगदीश हरे
मात पिता तुम मेरे
शरण करो गहूं किसकी
स्वामी शरण गहूं किसकी
तुम बिन और ना दूजा
तुम बिन और ना दूजा
आस करूँ जिसकी
ओम जय जगदीश हरे
तुम पूरण, परमात्मा
तुम अंतरियामी
स्वामी तुम अंतरियामी
पार ब्रह्म परमेश्वर
पार ब्रह्म परमेश्वर
तुम सबके स्वामी
ओम जय जगदीश हरे
तुम करुणा के सागर
तुम पालन करता
स्वामी पालन करता
मैं मूरख खलकामी
मैं सेवक तुम स्वामी
कृपा करो भर्ता
ओम जय जगदीश हरे
तुम हो एक अगोचर
सबके प्राण पति
स्वामी सबके प्राण पति
किस विध मिलु दयामय
किस विध मिलु दयामय
तुम को मैं कुमति
ओम जय जगदीश हरे
दीन-बन्धु दुःख-हर्ता
ठाकुर तुम मेरे
स्वामी रक्षक तुम मेरे
अपने हाथ उठाओ
अपनी शरण लगाओ
द्वार पड़ा तेरे
ओम जय जगदीश हरे
विषय-विकार मिटाओ, पाप हरो देवा
स्वामी पाप हरो देवा
श्रद्धा भक्ति बढ़ाओ
श्रद्धा भक्ति बढ़ाओ
सन्तन की सेवा
ओम जय जगदीश हरे
ओम जय जगदीश हरे
स्वामी जय जगदीश हरे
भक्त ज़नो के संकट
दास ज़नो के संकट
क्षण में दूर करे
ओम जय जगदीश हरे
ओम जय जगदीश हरे
स्वामी जय जगदीश हरे
भक्त ज़नो के संकट
दास जनो के संकट
क्षण में दूर करे
ओम जय जगदीश हरे

Aarti Lyrics:

Om Jai Jagdish Hare, Swami Jai Jagdish Hare
Bhagt Jano Ke Sankat, Khshan Mein Door Kare …
Jo Dhaywe Phal Pave, Dukh Vinse Man Ka
Sukh Sampati Ghar Aave, Kasht Mite Tan Ka …

Maat-Pita Tum Mere, Sharan Gahun Kiskee
Tum Bin Aur Na Duja, Aas Karun Jiskee …

Tum Puran Parmatma, Tum Antaryami
Par-Brahm Parmeshwar, Tum Sabke Swami …

Tum Karuna Ke Saagar, Tum Palankarta
Principal Moorakh Khal Kami, Mein Sewak Tum Swami,
Kripa Karo Bharta …

Tum Ho Ek Agochar, Sabke Pran Pati
Kis Vidhi Milun Dayamay, Tumko Principal Kumti …

Deenbandhu Dukh Harta, Thakur Tum Mere, Swami Rakshak Tum Mere
Apne Hath Uthaao, Apni Sharan Lagao,
Dwar Para Tere …

Vishay Vikaar Mitaao, Paap Haro Deva
Shradha Bhakti Badhaao, Santan Ki Sewa …

Om Jai Jagdish Hare, Swami Jai Jagdish Hare
Bhagt Jano Ke Sankat, Khshan Mein Door Kare …

source

Tags
Show More
SEOClerks

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker